कामवासना

बहन को बनाया लंड का गुलाम-6

यह कहानी एक सीरीज़ का हिस्सा है: ← बहन को बनाया लंड का गुलाम-5 → बहन को बनाया लंड का गुलाम-7 अभी तक आपने पढ़ा कि मेरी रंडी बहन मुझे चुदाई के खेल में खेल रही थी मैं उसके साथ वाइल्ड सेक्स कर रहा था, जोकि उसी की पसंद थी. sex image देखें अब आगे: मैं उसके… Read More »बहन को बनाया लंड का गुलाम-6

एक घर में दो चूतें-4

यह कहानी एक सीरीज़ का हिस्सा है: ← एक घर में दो चूतें-3 → एक घर में दो चूतें-5 मैं और छाया का भाई गन्दी गन्दी बातें करने लगे कभी गीता के बारे में तो कभी छाया के बारे में। हम दोनों का लंड खड़ा हो गया। मोनू ने कहा- भइया, अपना लंड निकाल के दिखाओ न?… Read More »एक घर में दो चूतें-4

एक घर में दो चूतें-3

यह कहानी एक सीरीज़ का हिस्सा है: ← एक घर में दो चूतें-2 → एक घर में दो चूतें-4 मैंने भी उसको देख के हाथ हिलाया और फ़ोन में सन्देश के माध्यम से पूछा- कैसा लग रहा है?उसने कहा- पता नहीं … अजीब सा लग रहा है. पर मज़ा बहुत आया।मैंने कहा- ठीक है, अब सो जा।उसने… Read More »एक घर में दो चूतें-3

चुदाई की मस्ती के लिए बस यात्रा-4

यह कहानी एक सीरीज़ का हिस्सा है: ← चुदाई की मस्ती के लिए बस यात्रा-3 → चुदाई की मस्ती के लिए बस यात्रा-5 सुबह नींद समय पर ही खुल गयी, पल्लवी नंगी ही उठी और बाथरूम के अन्दर घुस गयी और मैं पलंग पर लेटकर उसका इंतजार करता रहा। पंद्रह मिनट के बाद वो फारिग हो कर… Read More »चुदाई की मस्ती के लिए बस यात्रा-4

एक घर में दो चूतें-1

यह कहानी एक सीरीज़ का हिस्सा है: → एक घर में दो चूतें-2 सभी अन्तर्वासना वासियों को नमस्कार. आज में आपके सामने एक नई सेक्स स्टोरी लेकर आया हूँ. यह कहानी अभी कुछ समय पहले की है. हमारे घर के सामने एक नए किरायेदार आये थे। वो गढ़वाल के रहने वाले थे। उनके परिवार में पति रमेश,… Read More »एक घर में दो चूतें-1

दीदी का प्यार और मेरी हवस-1

हैलो दोस्तो! मैं अन्तर्वासना पर अपनी दूसरी कहानी लिखने जा रहा हूँ. उम्मीद है यह कहानी भी आपको अच्छी लगेगी। मुझे आपकी ईमेल और कमेंट्स का हमेशा की तरह इंतज़ार रहेगा.मेरा ईमेल है- EMAIL – [email protected] आप मुझे hangout या kik पर भी मेसेज कर सकते हैं. कहानियाँ कभी नयी या पुरानी नहीं होतीं. केवल उनके सन्दर्भ… Read More »दीदी का प्यार और मेरी हवस-1

गुलाब की तीन पंखुड़ियां-5

यह कहानी एक सीरीज़ का हिस्सा है: नमस्कार दोस्तों, अब आप इस सेक्सी कहानी के पांचवें भाग का आनंद लीजिये. साली नौकरी भी जिन्दगी के लिए फजीता ही है। यह अजित नारायण (मेरा बॉस) भोंसले नहीं भोसड़ीवाला लगता है। साला एक नंबर का हरामी है। पिछले 4 सालों से कोई पदोन्नति (प्रमोशन) ही नहीं कर… Read More »गुलाब की तीन पंखुड़ियां-5

गुलाब की तीन पंखुड़ियां-4

यह कहानी एक सीरीज़ का हिस्सा है: नमस्कार दोस्तों, अब आप इस सेक्सी कहानी के चौथे भाग का आनंद लीजिये. इस भयंकर प्रेमयुद्ध के बाद सुबह उठने में देर तो होनी ही थी। मधुर ने चाय बनाकर मुझे जगाया और खुद बाथरूम में घुस गयी। आज उसे अपनी मुनिया की सफाई करनी थी सो उसे… Read More »गुलाब की तीन पंखुड़ियां-4

गुलाब की तीन पंखुड़ियां-3

यह कहानी एक सीरीज़ का हिस्सा है: हेलो दोस्तों, मैं अपने सच्चे सेक्स अनुभव की कहानी का तीसरा भाग आप सबके लिए लाया हूँ. मैंने अपने और मधुर के दुश्मनों को (अरे भाई कपड़ों को) परे हटा दिया और उसे बांहों में दबोच लिया। अब मधुर ने अपनी जांघें खोल दी और पप्पू को अपने… Read More »गुलाब की तीन पंखुड़ियां-3

चुदाई के लिए मान भी जाओ आंटी-1

नमस्कार दोस्तो, शॉर्ट स्कर्ट वाली जवान लड़कियो, सेक्सी साड़ी वाली दूधिया बॉडी की मालकिन भाभियों और चुदक्कड़ आंटियो … मैं आपका रॉकी राज एक और कामुक कहानी लेकर हाजिर हूं. आप सभी को तो पता ही होगा कि मेरी पिछली कहानीदोस्त के भाई की शादी में सुहागरातमें मैंने होली में हुई संभोग की घटना का… Read More »चुदाई के लिए मान भी जाओ आंटी-1